1. Home
  2. |
  3. Hindi
  4. |
  5. सेंसिटिव स्किन (संवेदनशील त्वचा) की देखभाल - Sensitive Skin Care Tips In Hindi

क्या आपकी स्किन किसी खास कॉस्मेटिक या बाहरी चीजों के संपर्क में आते ही लाल हो जाती है? या इरिटेट महसूस करना लगती है? अगर आपका जवाब हां में है तो इसका मतलब यह है कि आपकी स्किन सेंसिटिव है। अच्छी खबर यह है कि यह कोई गंभीर समस्या नहीं है और इसे सही देखभाल के साथ ठीक किया जा सकता है।

सेंसिटिव स्किन क्या होती है? Sensitive Skin Meaning In Hindi

आपकी स्किन एक प्रोटेक्टिव लेयर की बनी होती है, जिसमें नमी रहती है और यह पर्यावरण के धूल, कण एवं गंदगी से हमारी स्किन की सुरक्षा करती है। कई कारणों की वजह से जब यह लेयर डैमेज हो जाता है तो आपकी स्किन हाइपर- एक्टिव हो जाती है और आपकी स्किन ड्राई, खुजली वाली और इरिटेट होने लगती है। सेंसिटिव स्किन वालों को कुछ खास किस्म के स्किन डिसॉर्डर भी हो जाते हैं।

क्या है सेंसिटिव स्किन के लक्षण? - Symptoms Of Sensitive Skin In Hindi

capillaries on the girl's face

सेंसिटिव त्वचा के लक्षण बहुत आम हैं, जिन्हें आप आसानी से समझ सकते हैं। ये हैं –

1. खुजली वाली कसी हुई स्किन

2. स्किन पर लालिमा

3. स्किन केयर प्रोडक्ट्स से रिएक्शन

4. सर्दियों में स्किन का बहुत ज्यादा ड्राई हो जाना

5. गरम पानी से नहाने के बाद स्किन का लाल हो जाना

6. स्पाइसी फूड खाने के बाद फ्लशेज आना

स्किन के सेंसिटिव होने के कारण – Causes Of Sensitive Skin In Hindi

A magnified macro detailed circle is seen over the cheek of a girl

आपकी स्किन के बैरियर को जो बाहरी कारण नुकसान पहुंचाते हैं, उसमें शामिल है कठोर स्किन केयर प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल, मौसम का बदलना, बिना देखभाल वाली ड्राई स्किन और बहुत ठंडा मौसम। सेंसिटिव स्किन के लिए जींस भी कई दफा जिम्मेदार [1] होते हैं। लेकिन एगजिमा और डर्मटाइटिस जैसे कुछ अन्य स्किन कन्डिशन भी हैं, जो सेंसिटिविटी का कारण बनते हैं।

1. ड्राई स्किन

जब आपकी स्किन में एसेंशियल ऑइल और पानी की कमी हो जाती है तो यह ड्राई होकर फ्लैकी हो जाता है। ड्राई स्किन होने का मुख्य कारण टूटा हुआ स्किन बैरियर है, जो जींस, मौसम में बदलाव और आपकी स्किन पर इस्तेमाल हुए प्रोडक्ट्स का कारण हो सकता है।

2. एगजिमा

यह एक ऐसी कन्डिशन है, जिसमें आपकी स्किन आपको इरिटेन्ट से बचा पाने में असफल रहती है। और इसकी वजह से स्किन पर रैश, ड्राइनेस, फ्लैक और सूजन एए जाती है। की बार तो स्किन पर पस भी बन जाते हैं। इसका सटीक कारण अब तक अज्ञात है लेकिन स्टडीज का कहना है कि इसमें जींस दोषी [2] हो सकते हैं।

3. इरिटेन्ट कान्टैक्ट डर्मटाइटिस

यह स्थिति स्किन पर तब बनती है, जब आपकी स्किन को रैश किसी चीज को छूने के बाद हो जाता है। यह पूरी तरह से खराब या वरोकें स्किन बैरियर की वजह से होता है। यदि आप अपनी स्किन के प्रभावित क्षेत्र को ज्यादा खुजली करेंगे तो इरिटेन्ट कान्टैक्ट डर्मटाइटिस आपकी स्किन में क्रोनिक बदलाव [3] ला सकता है।

4. रोसैजिया

इस स्थिति में आपकी स्किन लाल हो जाती है, छोटे पिंपल्स हो जाते हैं, बम्पस दिखने लगते हैं और ब्लड वेसल्स साफ नजर आने लगते हैं। वस्कुलर रोसैजिया, इनफ्लेमेट्री रोसैजिया, फाइमेटस रोसैजिया और ऑक्यूलर रोसैजिया, ये चार तरह [4] के रोसैजिया होते हैं।

5. कान्टैक्ट एण्ड फिजिकल यूरटिकैरिया

कान्टैक्ट यूरटिकैरिया को हाइव्स भी कहा जाता है। यह तब होता है, जब आपकी स्किन किसी इरिटेटिंग सबस्टैन्स के संपर्क में आती है। फिजिकल यूरटिकैरिया तब होता है, जब आपकी स्किन एक्सट्रीम टेम्परेचर, केमिकल या अन्य सबस्टैन्स के संपर्क में आती है। इनके आम लक्षण हैं- छोटे बम्प, इरिटेशन, रैश, लालिमा और सूजन।

सेंसिटिव स्किन को धोते समय अपनाएं ये तरीके – Methods To Follow While Washing Sensitive Skin In Hindi

सेंसिटिव स्किन को वॉश करते समय कुछ खास बातों का ध्यान रखना जरूरी है-

1. माइल्ड, फ्रेगरेन्स फ्री, फ़ोम फ्री मॉइश्चराइजिंग क्लीनजर का इस्तेमाल करना चाहिए।

2. एक बैरियर रिपेयर, क्रीम बेस्ड मॉइश्चराइजर खरीदें और वही लगाएं।

3. लंबे समय तक नहाने से परहेज करें।

4. ध्यान रखें कि आप पूरे दिन सनस्क्रीन लगाए रखें।

5. पानी वाले फल जैसे तरबूज, संतरा, स्ट्रॉबेरी, खीर, ककड़ी, टमाटर और नारियल का सेवन करें।

संवेदनशील त्वचा के लिए आहार – Best Diet For Sensitive Skin In Hindi

सेंसिटिव स्किन वालों को अपनी स्किन की विशेष देखभाल के तहत हेल्दी फूड्स काए सेवन अकरण चाहिए। प्रोटीन, फैट, एंटी- ऑक्सीडेंट, मिनरल, विटामिन आपके हेल्थ को सही रखते हैं और आपकी इरिटेटेड स्किन को सही रखते हैं। आपको अपनी डाइट में एवोकैडो, अखरोट, ब्लूबेरी, मीठे आलू, पालक, सालमन, टार्ट चेरी, अदरक, हल्दी, लहसुन, ऑलिव ऑइल जैसी चीजों को शामिल करना चाहिए। आप बियर, सोय सॉस, व्हीट ब्रेड, बार्ली, अंडे जैसी चीजों से परहेज कर सकते हैं।

सेंसिटिव स्किन के लिए इलाज – Treatment For Sensitive Skin In Hindi

  • ड्राई स्किन को ठीक करने के लिए बैरियर रिपेयर मॉइश्चराइजर लगाने की सलाह डॉक्टर द्वारा दी जाती है। यह आपकी स्किन के प्रोटेक्टिव लेयर की मरम्मत करके ड्राई स्किन के लक्षणों को ठीक कर देता है। रही बात, स्किन को साफ करने की तो ऐसी सेंसिटिव स्किन वालों को माइल्ड फ्रेगरेन्स फ्री और बहुत हल्के फ़ोमिंग क्लीनजर का उपयोग करना चाहिए।
  • एगजिमा में इनफ्लेमेशन को ठीक करने के लिए ओरल कॉर्टिकोस्टेरॉइड दिए जाते हैं, जो स्किन में होने वाली खुजली को भी ठीक करते हैं। इसके लिए वेट- रैप थेरेपी [5] भी किया जाता है, जिसमें प्रभावित जगह पर एक गीले कपड़े को बांधा जाता है। इसे नहाने और अपनी स्किन को मॉइश्चराइज करने के बाद करने की सलाह दी जाती है।
  • इरिटेन्ट कान्टैक्ट डर्मटाइटिस, रोसैजिया और कान्टैक्ट एण्ड फिजिकल यूरटिकैरिया होने पर डॉक्टर टॉपिकल कॉर्टिकोस्टेरॉइड, नंबिंग क्रीम, ओरल एंटीहिस्टामाइन देता है ताकि ये लक्षण धीरे- धीरे कम हो सकें।

सेंसिटिव स्किन के लिए घरेलू उपाय – Home Remedies For Sensitive Skin In Hindi

cup of tea with mint and honey on a wooden table

A. एलोवेरा ( Aloe Vera)

आपको चाहिए :

1 चम्मच एलो वेरा जेल, 1 चम्मच विटामिन ई ऑइल, 1 चम्मच बादाम का तेल

ऐसे लाएं उपयोग में :

  • इन सब सामग्री को मिला लें।
  • ध्यान दें कि एलो वेरा जेल सही तरह से तेल में मिल जाए।
  • प्रभावित जगह पर लगाएं और रात भर के लिए रहने दें।
  • सुबह गुनगुने पानी से धो लें।

यह क्यों काम करता है :

यह सेंसिटिव स्किन को ठीक करने के लिए बढ़िया होम रेमेडी है। एलो वेरा को इसके थेरेप्युटिक और हीलिंग गुणों के लिए जाना जाता है। यह स्किन को हाइड्रेट, मॉइश्चराइज और नरिश करता है। यह इनफ्लेमेशन को कम करके स्किन को सूद करता है। एलो वेरा स्किन के टेक्सचर में सुधार लाकर आपकी स्किन को सॉफ्ट और स्मूद करता है।

B. ग्रीन टी ( Green Tea)

आपको चाहिए :

2- 4 ग्रीन टी बैग, 1 चम्मच शहद और 1 कप पानी

ऐसे लाएं उपयोग में :

  • ग्रीन टी बैग्स को पानी में डाल कर उबालने के लिए गैस पर चढ़ा दें।
  • इसे तब तक उबलने दें जब तक कि चाय की पत्तियों से रंग न निकलने लगे।
  • अब इस चाय को 5 से 7 मिनट तक ठंडा होने दें।
  • इस चाय पानी में शहद मिलाएं।
  • जब यह गुनगुना गरम रह जाए तो इससे अपने चेहरे को धोएं।
  • यह प्रक्रिया आप रोज दोहरा सकते हैं।

यह क्यों काम करता है :

यह एक सेंसिटिव स्किन होम मेड फेस वॉश है, जो आपकी स्किन पर जादुई असर करता है। ग्रीन टी में एंटी- ऑक्सीडेंट होते हैं, जो फ्री रैडिकल द्वारा किये गए डैमेज को ठीक करते हैं। साथ ही, स्किन को आगे और डैमेज होने से बचाते हैं। यह स्किन पर आए सूजन को भी कम करने में सहायक है। ग्रीन टी में कैटेचिन्स होता है, जिसमें एंटी- बैक्टीरियल गुण होते हैं। ग्रीन टी से रोजाना अपनी स्किन को साफ करने से टॉक्सिन दूर होते हैं, स्किन टोन होती है और रोमछिद्र का खुलापन कम होता जाता है।

C. गुलाब जल ( Rose Water)

आपको चाहिए :

एक शीशी में भर हुआ गुलाब जल, बेहतर हो यदि आप इसे किसी स्प्रे बॉटल में रख लें।

ऐसे लाएं उपयोग में :

  • गुलाब जल वाली शीशी को अपने चेहरे के पास ले जाएं और स्प्रे करें।
  • ऐसा आप दिन के किसी भी समय और कई बार भी कर सकते हैं।
  • आप इसे रुई की मदद से अपने होंठों पर भी लगा सकते हैं।

यह क्यों काम करता है :

यह एक नैचुरल टोनर है, जिसका इस्तेमाल आप रोजाना कभी भी कर सकते हैं। गुलाब जल आपकी सेंसिटिव स्किन के पीएच संतुलन को रिस्टोर करके रखता है। साथ ही आपकी स्किन से तेल और धूल- गंदगी को बाहर करके रोम छिद्रों को खोलता है। इसमें एंटी- इनफ्लेमेट्री गुण होते हैं, जो आपके खराब और इरिटेटेड स्किन को सूद करते हैं। गुलाब जल आपकी सेंसिटिव स्किन में नमी को वापस लाता है।

D. केला ( Banana)

आपको चाहिए :

1 मैश किया गया केला, 2 चम्मच शहद, 1 चम्मच दही और विटामिन ई ऑइल की 6 बूंदें

ऐसे लाएं उपयोग में :

  • इन सारी सामग्री को अच्छी तरह से एक बर्तन में मिला लें।
  • अब अपने चेहरे को पहले सादे पानी से साफ कर लें।
  • इसके बाद उपरोक्त तैयार सामग्री को चेहरे पर लगाएं।
  • 15 से 20 मिनट चेहरे पर लगे रहने दें।
  • अब गुनगुने पानी से चेहरा साफ कर लें।

यह क्यों काम करता है :

केला में पोटैशियम खूब होता है, जो स्किन को हाइड्रेट करने के साथ ही मॉइश्चराइज भी करता है। इसमें विटामिन ए भी होता है, जो यह सुनिश्चित करता है कि स्किन में नमी लॉक हो जाए। केला डैमेज हो चुकी स्किन की मरम्मत भी करता है और हील भी। यह सेंसिटिव स्किन में हाइड्रेशन और नरिशमेन्ट को भी बूस्ट अप करता है।

E. नारियल तेल ( Coconut Oil)

आपको चाहिए :

1 कप नारियल तेल, 2 चम्मच आंवला पाउडर, 4 करी पत्ता और विटामिन ई ऑइल की 4 बूंदें।

ऐसे लाएं उपयोग में :

  • एक बर्तन में नारियल तेल निकालें और इसे गैस पर चढ़ा दें।
  • इसमें बाकी इनग्रेडिएंट भी मिला दें।
  • इस मिश्रण को 10 मिनट के लिए पकाएं।
  • जब मिश्रण अच्छी तरह से पक जाए तो इसे छान लें।
  • ठंडा होने पर एक शीशी में स्टोर कर लें।
  • इसे अपने चेहरे पर लगाएं।
  • रात भर के लिए चेहरे पर लगे रहने दें।
  • सुबह ही चेहरे को धोएं।

यह क्यों काम करता है :

नारियल तेल स्किन को नरिश और मॉइश्चराइज करता है। यह डैमेज हो चुकी स्किन की मरम्मत करके हीलिंग प्रक्रिया को बूस्ट अप करता है। नारियल तेल एंटी- ऑक्सीडेंट, विटामिन ई और एसेंशियल फैटी एसिड्स का समृद्ध स्रोत होता है। यह सेंसिटिव स्किन को सॉफ्ट और स्मूद रखने में सहायता करता है। वहीं, आंवला में भी एंटी- ऑक्सीडेंट खूब होता है। करी पत्ते एंटी- इनफ्लेमेट्री होते हैं और स्किन को मॉइश्चराइज करते हैं।

सेंसिटिव स्किन से बचाव के उपाय – Prevention Tips For Sensitive Skin In Hindi

सेंसिटिव स्किन से बचाव के कुछ उपाय हैं, जिन्हें आजमाना सेंसिटिव स्किन वालों के लिए जरूरी है, ये हैं-

1. रेटिनॉइड

रेटिनॉइड में विटामिन ए होता है, जो अच्छी स्किन और बॉडी हेल्थ के लिए जरूरी है। हालांकि, इनसे स्किन इरिटेशन के होने की आशंका भी रहती है। इसलिए अगर आपकी स्किन सेंसिटिव है तो आपको रेटिनॉइड वाले प्रोडक्ट्स से दूर रहना चाहिए।

2. हाइड्रॉक्सी एसिड

अल्फा- हाइड्रॉक्सी एसिड को ऐसे मार्केट किया गया है कि यह हर तरह की स्किन के लिए सही है लेकिन यदि आपकी स्किन सेंसिटिव है तो आपको एएचए वाले प्रोडक्ट्स का उपयोग करने से पहले पैच टेस्ट करना चाहिए। वहीं दूसरी ओर, बीटा हाइड्रॉक्सी एसिड ड्राइंग एजेंट होते हैं। इनका उपयोग एक्ने को ठीक करने के लिए किया जाता है, जो आपकी स्किन पर एसेंशियल ऑइल को सूखा देते हैं। इसलिए, बीएचए वाले प्रोडक्ट्स से परहेज कीजिए।

3. अल्कोहल बेस्ड प्रोडक्ट्स

अल्कोहल बेस्ड प्रोडक्ट्स अमूमन मेकअप रिमूवर की तरह आते हैं। इनके इस्तेमाल से परहेज कीजिए क्योंकि ये आपकी स्किन को ड्राई कर देते हैं और जला भी सकते हैं।

संवेदनशील त्वचा के लिए जरूरी टिप्स – Sensitive Skin Care Tips In Hindi

  • संवेदनशील त्वचा वालों को अपने लिए सही स्किन केयर प्रोडक्ट्स चुनना चाहिए, जो आपकी स्किन में सुधार ला सकें।
  • सेंसिटिव स्किन वालों को ओट्स, मैरिन प्लांट्स, कैमोमाइल, एलो वेरा, ग्रीन टी युक्त स्किन केयर प्रोडक्ट्स खरीदने और इस्तेमाल में लाने चाहिए।
  • आप अपनी सेंसिटिव स्किन की देखभाल के लिए पेट्रोलियम बेस्ड प्रोडक्ट्स भी चुन सकते हैं।
  • नाइलॉन, पॉलिस्टर जैसे सिंथेटिक फैब्रिक वाले कपड़े संवेदनशील त्वचा वालों को नहीं पहनने चाहिए क्योंकि ये सांस नहीं लेते हैं और इरिटेशन के साथ डिस्कम्फर्ट उत्पन्न कर सकते हैं।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल - FAQs

मुझे कैसे पता चलेगा कि मेरी संवेदनशील त्वचा है? How Do I Know If I Have Sensitive Skin?

अगर आपकी स्किन पर खुजली हो रही यही, अलग- अलग तरह के पैच दिख रहे हैं और आपकी ड्राई हो रही है तो इसका मतलब यह है कि आपकी स्किन संवेदनशील है।

संवेदनशील त्वचा के लिए कौन से तत्व बुरे हैं? Which Ingredients Are Bad For Sensitive Skin?

सिंथेटिक फ्रेगरेन्स, कलरिंग एजेंट, ऐसिड, पेट्रोकेमिकल, सल्फेट, कड़े एक्सफ़ोलिऐंट, अल्कोहल आदि वाले स्किन केयर प्रोडक्ट्स नहीं लेने चाहिए।

संवेदनशील त्वचा के लिए कौन से कपड़े के कपड़े कम परेशान करते हैं? Which Clothing Fabrics Are Less Irritating To Sensitive Skin?

स्मूद, सॉफ्ट और नैचुरल फैब्रिक वाले कपड़े जैसे कॉटन और सिल्क संवेदनशील त्वचा वालों के लिए सही रहते हैं। कॉटन कूल फैब्रिक है तो वहीं सिल्क वॉर्म होता है, दोनों बॉडी के मॉइश्चर को स्किन से दूर ले जाते हैं। रेयॉन और लिनन भी सेंसिटिव स्किन वालों के लिए ठीक रहते हैं।

निष्कर्ष – Conclusion

सेंसिटिव स्किन का अलग से ध्यान रखने की जरूरत रहती है ताकि आगे कोई अन्य परेशानी या स्किन में इरिटेशन न हो। यदि आपकी स्किन सेंसिटिव है तो यह ध्यान रखिए कि किसी भी प्रोडक्ट को अपने चेहरे पर इस्तेमाल से पहले हमेशा एक पैच टेस्ट जरूर किया करें।

Begin By Knowing Your Skin

Recommended Products

  • SK Active

    SkinKraft Acne Total Clear Solution

    Buy Now
  • SK Active

    Advanced Acne & Intense Scar Defense Cream

    Buy Now
  • SK Active

    Advanced Skin Lightening And Antioxidant Serum

    Buy Now
  • SK Active

    SkinKraft Anti-Ageing & Antioxidant Booster Shot

    Buy Now

Working...