1. Home
  2. |
  3. Hindi
  4. |
  5. सनस्क्रीन क्या है, और एक सही सनस्क्रीन कैसे चुनें ? - What Is Sunscreen, & How To Choose The Right Sunscreen?

क्या आप घर से बाहर निकलते समय अपनी स्किन पर सनस्क्रीन लगाते हैं? यदि नहीं, तो आपकी स्किन खतरे में पड़ सकती है। आपकी स्किन पर टैनिंग, प्री- मैच्योर एजिंग, सनबर्न और कुछ मामलों में स्किन कैंसर होने का खतरा रह सकता है।

इसलिए, यह जरूरी है कि आप अपनी स्किन पर सनस्क्रीन लगाएं। यह सूरज के अल्ट्रा वायलेट किरणों से आपकी स्किन की सुरक्षा करता है। हालांकि, मार्केट में कई तरह के सनस्क्रीन उपलब्ध हैं, लेकिन जरूरी नहीं है वे सब आपकी स्किन को सूट करें। इसलिए आज हम इस आर्टिकल में सनस्क्रीन से जुड़ी हर जरूरी पहलू के बारे में जानते हैं।

सनस्क्रीन क्या है? - What Is Sunscreen In Hindi?

सनस्क्रीन आपकी स्किन के लिए सुरक्षा कवर के तौर पर काम करता है और आपकी स्किन को खतरनाक अल्ट्रा वायलेट किरणों से बचाता है। ये अल्ट्रा वायलेट किरणें टैनिंग, लालिमा और इरिटेशन का कारण बनती हैं।

सनस्क्रीन में एसपीएफ यानी सन प्रोटेक्शन फैक्टर होता है। यह सूरज की किरणें से आपकी स्किन की सुरक्षा करने में आपके सनस्क्रीन की स्किल को मापता है। उदाहरण के लिए, यदि आपकी स्किन को बर्न होने में अमूमन 10 मिनट लगेंगे, तो एसपीएफ 30 युक्त सनस्क्रीन आपको 5 घंटे (10 को 30 से गुना करेंगे तो 300 मिनट यानी 5 घंटे) तक सूरज की किरणों से सुरक्षित रखेगा [1]। हालांकि, डर्मेटोलॉजिस्ट का मानना है कि हर दो घंटे पर सनस्क्रीन लगाना चाहिए।

सूरज की किरणें सुबह के 10 बजे से लेकर शाम के 4 बजे तक बहुत हानिकारक होती हैं। ऐसे में आपकी स्किन सुबह के 8 बजे की तुलना में, दोपहर के 12 बजे ज्यादा जलेगी ।

सनस्क्रीन चुनने से पहले ध्यान देने योग्य बातें - Things To Consider Before Choosing A Sunscreen

हम सब सनस्क्रीन ले लेते हैं लेकिन यह नहीं जानते कि हमारी स्किन को कौन सी सनस्क्रीन सूट करेगी। इसलिए जरूरी है कि हम सनस्क्रीन खरीदते समय कुछ जरूरी बातों का ध्यान रखें –

1. किस तरह का सनस्क्रीन

सनस्क्रीन कई तरह के आते हैं – लोशन, स्प्रे, जेल, क्रीम, बटर, स्टिक, ऑइल और पेस्ट। हमें उस सनस्क्रीन को चुनना चाहिए, जिसे लगाने में हमें कम्फर्टेबल महसूस हो। आप चाहें जिस भी सनस्क्रीन को चुने, उसकी एक मोटी परत को अपनी स्किन [2] पर लगाएं। यदि आपकी स्किन एक्ने वाली है, तो जेल वाली सनस्क्रीन सही रहेगी। यदि आपकी त्वचा ड्राई है, तो क्रीम वाली सनस्क्रीन सही रहती है। अगर आप नियमित तौर पर मेकअप लगाते हैं, तो ऐसा सनस्क्रीन चुनिये, जो ग्रीजी न [3] हो।

2. एक्टिव इनग्रेडिएन्ट

सनस्क्रीन में मौजूद एक्टिव इनग्रेडिएन्ट आपको सूरज की यूवीए और यूवीबी किरणों से बचा कर रखते हैं। ऐसे सनस्क्रीन को चुनें, जिसमें सूटेबल और सही इनग्रेडिएन्ट हों।

3. ब्रॉड स्पेक्ट्रम

अधिकतर सनस्क्रीन यूवीबी किरणों से आपकी स्किन की सुरक्षा करते हैं, जिससे सनबर्न हो जाता है और स्किन की परत मोटी हो जाती है। यूवीए किरणों से टैनिंग और प्रीमैच्योर एजिंग होती है। इसलिए आपको ब्रॉड स्पेक्ट्रम सनस्क्रीन लेना चाहिए, जो आपको दोनों तरह की किरणों से सुरक्षित रखे।

4. अपनी स्किन के अनुसार

ऐसा सनस्क्रीन लीजिए, जो आपकी स्किन टाइप के अनुसार हो और आपकी स्किन से जुड़ी समस्याओं के साथ सही तरह से काम करे। ड्राई, ऑइली, सेंसिटिव, कॉम्बिनेशन, एक्ने वाली स्किन के लिए अलग- अलग तरह के सनस्क्रीन आते हैं।

5. एसपीएफ नंबर

सनस्क्रीन लेने से पहले एसपीएफ नंबर पर जरूर ध्यान दें। इससे यह पता चलेगा कि वह कितनी देर तक सूरज से आपकी स्किन की सुरक्षा करेगा।

अगर आप लंबे समय के लिए घर से बाहर रहते हैं, तो आपको ज्यादा एसपीएफ वाले सनस्क्रीन को लेना चाहिए, जैसे एसपीएफ 50। अगर आप सिर्फ उतनी देर ही बाहर रहते हैं, जितनी देर घर से ऑफिस जा रहे हैं, तो आपको कम एसपीएफ वाला सनस्क्रीन लेना चाहिए।

डर्मेटोलॉजिस्ट की सलाह रहती है कि आपको कम से कम एसपीएफ 15 वाला सनस्क्रीन लगाना चाहिए।

6. वॉटर रेसिस्टेंट सनस्क्रीन

यह तो सबका पता है कि हमारे देश में ह्यूमिडिटी कितनी ज्यादा रहती है। ऐसे में वॉटर रेसिस्टेंट सनस्क्रीन बढ़िया रहता है। अगर आप एक्टिव रहते हैं, आपको बहुत ज्यादा पसीना निकलता है या आप स्विमिंग करते हैं, तो आपको वॉटर रेसिस्टेंट सनस्क्रीन का इस्तेमाल करना चाहिए। इसे हर 40 से 80 मिनट बाद लगाना चाहिए।

7. पैच टेस्ट

सनस्क्रीन को अपने चेहरे पर लगाने से पहले पैच टेस्ट करना सही रहता है। अगर आपकी स्किन पर खुजली हो रही है, या लाल सा हो गया है तो उस सनस्क्रीन को आगे बिल्कुल न लगाएं।

8. एक्स्पायरी डेट

यदि किसी सनस्क्रीन का एक्स्पायरी डेट पार कर गया है, तो उसे बिल्कुल नहीं खरीदें। साथ ही इसके बारे में स्टोर मैनेजर को बताने से न चूकें!

अपनी त्वचा के प्रकार के आधार पर सनस्क्रीन कैसे चुनें? - How To Choose A Sunscreen Based On Your Skin Type?

The word dry is written in cream on hands

आपकी उंगलियों के प्रिन्ट की तरह आपकी स्किन टाइप भी अनूठी है। अपनी स्किन टाइप के अनुसार ही आपको सनस्क्रीन लेना चाहिए। इस बारे में गहराई से यहां जानें -

1. रूखी त्वचा - Dry Skin

ड्राई स्किन को पूरी तरह से हाइड्रेट करके रखना पड़ता है। इसलिए, ऐसे सनस्क्रीन को चुनिये जिसमें मॉइस्चराइजिंग एलीमेंट हों। एसपीएफ 30 से 50 के बीच वाले क्रीम या लोशन युक्त सनस्क्रीन ड्राई स्किन वालों के लिए सही रहते हैं। यह आपकी स्किन को सूरज की किरणों से होने वाले डैमेज से बचाता है और साथ ही इसे सॉफ्ट एवं स्मूद बनाता है। मिनरल और फिजिकल सनस्क्रीन भी ड्राई स्किन पर अच्छे से काम करता है।

2. तैलीय त्वचा - Oily Skin

ऑइली स्किन फेस वॉश के बाद भी हमेशा चिपचिपी महसूस होती है और चमकती रहती है। इसका यह मतलब है कि आपके सेबैशियस ग्लैन्ड जरूरत से ज्यादा सीबम का निर्माण करते हैं। चूंकि आपकी स्किन पहले से ऑइली है, तो आपको नॉन ग्रीजी, लाइट वेट और मैट फिनिश वाले केमिकल सनस्क्रीन की जरूरत है। अगर आप हेवी या ग्रीजी सनस्क्रीन को अपनी स्किन पर लगाएंगे, तो आपके स्किन के रोम छिद्र अतिरिक्त तेल की वजह से ब्लॉक हो सकते हैं।

3. संवेदनशील त्वचा - Sensitive Skin

सेंसिटिव स्किन वाले लोगों को फिजिकल सनस्क्रीन लगाना चाहिए, जिसमें टाइटेनियम डायऑक्साइड और जिंक ऑक्साइड जैसे इनग्रेडिएन्ट होते हैं। ये इनग्रेडिएन्ट हल्के होते हैं और इनका आपकी स्किन पर किसी तरह का साइड इफेक्ट नहीं पड़ता है। साथ ही, ऐसे प्रोडक्ट का इस्तेमाल न करें, जिनमें पैराबेन या ऑक्सीबेंजोन हों, ताकि स्किन रैश और इरिटेशन से बचा जा सके।

4.मुंहासे वाली त्वचा - Acne-Prone Skin

जिनकी स्किन एक्ने वाली होती है, उन्हें सोच- समझ कर सनस्क्रीन चुनना चाहिए। फिजिकल सनस्क्रीन नॉन- कॉमेडोजेनिक [4] होते हैं। इसका मतलब यह है कि इन्हें बंद रोम छिद्रों से बचाने के लिए विशेष तौर पर तैयार किया गया है। अपने चेहरे पर किसी कड़े प्रोडक्ट का इस्तेमाल न करें और केमिकल सनस्क्रीन से परहेज करें।

5.सामान्य त्वचा - Normal Skin

जिन लोगों की स्किन नॉर्मल होती है, वे किसी भी तरह के सनस्क्रीन का इस्तेमाल अपनी स्किन पर कर सकते हैं। हालांकि, हमेशा यह सलाह दी जाती है कि केमिकल की जगह पर फिजिकल सनस्क्रीन का इस्तेमाल करना चाहिए ताकि आगे भी स्किन में किसी तरह का कोई इरिटेशन न हो।

घर पर सनस्क्रीन बनाने और लगाने का तरीका - How To Make & Apply Sunscreen At Home

Aloe vera and turmeric

घर पर ही आप कई तरह के सनस्क्रीन बना सकते हैं। ये डीवाईआई सनस्क्रीन इफेक्टिव हैं और सूरज की किरणों से आपकी स्किन की सुरक्षा करते हैं।

1. एलोवेरा सनस्क्रीन – Aloe Vera Sunscreen

  • एलो वेरा सनस्क्रीन को बनाने के लिए आपको चाहिए आधा चम्मच हल्दी पाउडर और 1 चम्मच एलो वेरा जेल।
  • अब इसे आइस क्यूब में फ्रीज कर लें।
  • इस आइस क्यूब को स्किन पर रगड़ें और सूखने दें।
  • इससे बेहतर और नैचुरल सनस्क्रीन आपको कोई और नहीं मिलेगा।

क्या है खास इसमें

हल्दी और एलो वेरा परफेक्ट नैचुरल रेमेडी हैं, जो गर्मी के मौसम में निकलने वाले अत्यधिक पसीने से होने वाले बैक्टीरिया से स्किन की सुरक्षा करते हैं। हल्दी का एंटीसेप्टिक गुण और कूल एलो वेरा नैचुरल सनस्क्रीन की तरह काम करता है।

2. पेपरमिंट सनस्क्रीन – Peppermint Sunscreen

  • इस सनस्क्रीन को बनाने के लिए आपको चाहिए ¼ कप कोकोनट ऑइल, ¼ कप शी बटर, 2 चम्मच बादाम तेल, 1 चम्मच विटामिन ई ऑइल, 2 चम्मच बीसवैक्स, 1 चम्मच जिंक ऑक्साइड पाउडर, 1 चम्मच कैरट सीड ऑइल और 15 से 20 बूंदें पेपरमिंट।
  • अब कोकोनट ऑइल, शी बटर, बादाम तेल, विटामिन ई ऑइल और बीसवैक्स को पिघला लें।
  • जब यह पिघल जाए, तो इसे ठंडा होने दें।
  • अब सावधानी से इसमें जिंक ऑक्साइड पाउडर डालें।
  • अच्छी तरह से मिलाएं और मिश्रण को फ्रिज में लगभग आधे घंटे के लिए सेट होने के लिए रख दें।
  • हैंडी मिक्सर की मदद से मिश्रण को बीट कर लें।
  • अब इसमें कैरट सीड ऑइल और पेपरमिन्ट ऑइल को डालें और मिलाएं।
  • डार्क ग्लास कन्टेनर में स्टोर करके फ्रिज में रख लें।

क्या है खास इसमें

ये सारे इनग्रेडिएन्ट आपकी स्किन को मॉइस्चराइज़ भी करेंगे। पेपरमिंट इनफ्लेमेशन को कम करके सनबर्न से होने वाले प्रभावों को कम [5] करता है।

3. एवोकाडो सनस्क्रीन – Avocado Sunscreen

  • इस सनस्क्रीन को बनाने के लिए आपको ¼ कप ऐवकाडो ऑइल, ¼ कप कोकोनट ऑइल, ¼ कप शी बटर और 2 चम्मच जिंक ऑक्साइड की जरूरत पड़ेगी।
  • इन तीनों को मिलाकर गैस पर चढ़ा दें ताकि ये पिघल जाएं।
  • कुछ घंटों के लिए इसे ठंडा होने दें।
  • उसके बाद इसमें जिंक ऑक्साइड मिला दें।
  • आपका नैचुरल सनस्क्रीन तैयार है।
  • यह छह महीनों तक आसानी से चल जाएगा, इसलिए कम मात्रा में ही इसे बनाएं।

क्या है खास इसमें

कई स्टडीज [6] बताते हैं कि ऐवकाडो सूरज से निकलने वाली खतरनाक अल्ट्रा वायलेट किरणों से स्किन की सुरक्षा करता है।

कहां लगाएं सनस्क्रीन

सनस्क्रीन को अपनी बॉडी के उन हिस्सों पर लगाना चाहिए, जो सीधे सूरज की किरणों के संपर्क में आने वाली हों। इसमें आपका चेहरा, गर्दन, बाजू और पैर शामिल हैं। यदि आपका इरादा बीच पर या स्विमिंग के लिए जाने का है, तो फिर आपको अपनी पूरी बॉडी पर सनस्क्रीन लगाना चाहिए।

सनस्क्रीन के फायदे - Benefits Of Sunscreen In Hindi

  • सनस्क्रीन हमारी स्किन को सूरज की यूवीए और यूवीबी किरणों से बचाता है।
  • यह हमारी स्किन को नुकसान पहुंचाए बिना हमें सूरज में जाने के लिए तैयार करता है।
  • यह हामरी स्किन के लुक को सही बनाए रखता है, हमारी स्किन को प्री मैच्योर एजिंग, बर्निंग और टैनिंग से बचाता है।
  • इसके अलावा, सनस्क्रीन स्किन को डिहाइड्रेट होने से भी बचाता है।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल - FAQs

1. सनस्क्रीन लगाने से क्या होता है? - What Happens When You Apply Sunscreen?

स्किन पर सनस्क्रीन को लगाने से सूरज की अल्ट्रा वायलेट किरणें स्किन तक नहीं पहुंच पाती हैं। इससे सनबर्न होने का जोखिम बहुत हद तक कम हो जाता है।

2. सनस्क्रीन कब लगाना चाहिए? - When Should Sunscreen Be Applied?

बाहर निकलने से लगभग आधे घंटे पहले आपको सनस्क्रीन को अपनी बॉडी के हर उस हिस्से पर लगाना चाहिए, जो सूरज की किरणों के सीधे संपर्क में आने वाला हो।

3. क्या SPF 50 सनस्क्रीन अच्छा है? - Is SPF 50 Sunscreen Good?

एसपीएफ 50 सनस्क्रीन यूवीबी किरणों को 98% तक ब्लॉक कर देती हैं। जो लोग सनबर्न को लेकर सेंसिटिव हैं, उन्हें एसपीएफ 50 युक्त सनस्क्रीन को अपनी बॉडी पर लगाना चाहिए।

निष्कर्ष - Conclusion

सनस्क्रीन आपकी स्किन केयर रूटीन का एक अहम हिस्सा होना चाहिए। आपको ऐसे सनस्क्रीन प्रोडक्ट को चुनना चाहिए, जो आपकी स्किन टाइप को सूट करे और सही सन प्रोटेक्शन दे। अधिकतम लाभ के लिए आपको फिजिकल और केमिकल सनस्क्रीन के कॉम्बिनेशन को चुनना चाहिए। आप चाहें तो घर पर ही अपनी स्किन को सूट करने वाले सनस्क्रीन को बना सकते हैं।

Begin By Knowing Your Skin

Recommended Products

  • clay mask

    Licorice Micronized Titanium dioxide UV Sun Protect Lotion Broad Spectrum SPF 40 PA+++

    Buy Now

Working...