1. Home
  2. |
  3. Hindi
  4. |
  5. रूसी से मुक्ति पाने के 5 घरेलू नुस्खे

टीवी पर एक विज्ञापन में दिखाया जाता है कि लड़की के कपड़ों पर सफ़ेद रंग का पपड़ीनुमा कुछ गिरता है, और वह सकपका जाती है। यह पपड़ीनुमा चीज कुछ और नहीं, रूसी ही है। जब यह बालों को अपना घर बना लेती है, तो आसानी से जाती नहीं। यह न सिर्फ़ हमारे आत्मविश्वास को तार- तार कर देता है, बल्कि सबके बीच में हमें शर्मसार भी कर देता है। लेकिन इसका अर्थ यह नहीं है कि इसका कोई इलाज नहीं!

हम कुछ आसान और ज़रूरी बातों का ध्यान रखकर अपने बालों से रूसी दूर भगा सकते हैं, बस ज़रूरत है कुछ खास बातों और चीजों का ध्यान रखने की।

रूसी क्या है?- (What is Dandruff?)

रूसी को चिकित्सकीय भाषा में seborrhea कहते हैं और यह हमारे स्कैल्प को कमजोर कर देती है। यह दरअसल डेड स्किन है, जो सही तरीके से कंघी न करने, स्ट्रेस (तनाव) और ड्राई स्किन (सूखी त्वचा) की वजह से हो जाती है। सर्दियों में, यह समस्या बहुत ज्यादा बढ़ जाती है। [1] यह न सिर्फ़ बड़ों को बल्कि बच्चों को भी हो जाती है। नवजात बच्चों में से कई इस समस्या से ग्रस्त रहते हैं। यदि समय रहते इसका इलाज न ढूंढा गया, तो उनके बालों से रूसी हटाना एक कड़ी परीक्षा हो सकता है। एक रिपोर्ट बताती है कि अपने देश भारत में इस समय रूसी से परेशान लोगों की संख्या 1 करोड़ से ज्यादा है।

रूसी (डैंड्रफ) के लक्षण - (Dandruff Symptoms in Hindi)

सबसे बड़ा सवाल यह है कि हमें कैसे पता चलेगा कि हमारे बालों में रूसी ने घर बना लिया है की नहीं? रूसी दरअसल एक पपड़ीनुमा सफ़ेद रंग का तैलीय चकत्ते की तरह है, जो बालों के अंदर स्कैल्प पर छिपा रहता है। कई बार यह इतना सघन होता है कि यह कंघी करने पर भी नहीं निकलता, इसे नाखूनों से नोचकर निकालना पड़ता है। इसकी वजह से बालों में खुजली भी होती है। नवजात बच्चों को होने वाली रूसी को क्रेडल कैप कहते हैं। इसे बच्चों के सिर से साफ़ करने के लिए लगातार कोशिश करते रहना पड़ता है।

रूसी होने के कारण - (Causes Of Dandruff In Hindi)

रूसी तब बालों को अपना घर बनाता है जब Malassezia नामक फंगस आपके स्कैल्प पर विकसित होने लगता है। डैंड्रफ के समय Malassezia अपने सामान्य स्तर से कई गुणा अधिक बढ़ जाता है. [2] इसकी वजह से स्कैल्प डैमेज होने लगता है और वहां गंभीर तौर पर सूखापन होने लगता है। रूसी एक अन्य प्रकार की भी होती है। इसके तहत आपका स्कैल्प अधिक तेल का निर्माण करने लगता है और रूसी चिपकू तैलीय तौर पर आपके बालों पर चिपक जाती है। रूसी होने के प्रमुख कारणों में से कुछ खास हैं।

1. ड्राई स्किन (सूखी त्वचा)

ड्राई स्किन कई परेशानियों का कारण बनता है। इसलिए ज़रूरी है कि आपके बाल और स्कैल्प में पर्याप्त तेल बना रहे। रूखे बालों में पपड़ी जम जाती है और फिर रूसी होने की आशंका कई गुना बढ़ जाती है।

2. सही तरीके से कंघी न करना

जब आप नियमित तौर पर सही तरीके से कंघी करते हैं, तो आपके बाल साफ़ हो जाते हैं। रोजाना कंघी करने से बाल से डेड स्किन निकल जाती है और गंदगी भी बालों में जमा नहीं होती है।

3. सही समय पर और सही तरीके से शैम्पू का इस्तेमाल न करना

यदि आप अपने बाल सही तरीके से नहीं धोते हैं तो बालों में गंदगी जमा हो जाती है, और रूसी बालों में घर कर लेती है। इसलिए अपने बालों को सही अंतराल पर अच्छे शैम्पू से साफ़ करते रहें। [3] यह याद रखें कि गंदे बालों में रूसी होने के साथ ही, गंदे बालों का झड़ना भी शुरू हो जाता है।

4. खराब हेयर प्रोडक्ट

इन दिनों मार्केट में कई ऐसे हेयर प्रोडक्ट मौजूद हैं, जो दावा करते हैं कि वे आपके बालों को चमकदार और स्वस्थ बना देंगे। आप उन विज्ञापनों को देख कर उन्हें खरीद लेते हैं। ज़रूरी नहीं है कि हर हेयर केयर प्रोडक्ट आपके बालों को सूट करे ही, कई आपके बालों को नुकसान भी पहुँचाते हैं और परिणाम ड्राई स्किन के तौर पर सामने आता है जो कुछ दिनों में रूसी बन जाता है।

5. स्ट्रेस या अन्य कोई मानसिक परेशानी

स्ट्रेस, एक ऐसी परेशानी है जो अन्य कई परेशानियों को जन्म देती है। तनाव, चिंता जैसी मानसिक परेशानियों को अपने से दूर करने में ही भलाई है। यह रूसी का कारण भी बन सकता है। रोजाना 7-8 घंटे की नींद लेना ज़रूरी है और यदि आपका स्ट्रेस कम न हो, तो पहले उसे दूर करने की कोशिश कीजिए।

6. अन्य रोग

स्किन की अन्य कुछ समस्याएं जैसे एग्जिमा और सोरायसिस की वजह से भी रूसी बालों में अपना घर बना लेता है। बेहतर तो यह है कि ऐसी परेशानियां होने पर आप तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें। इसके अलावा, पार्किंसंस जैसी बीमारी की वजह से भी बालों में रूसी होने का खतरा रहता है।

रूसी का इलाज – Dandruff Treatment In Hindi

रूसी का सबसे बढ़िया इलाज है कि आप अपने बालों की नियमित तौर पर साफ़ रखें। बाल गंदे न हों, इसका खास ध्यान रखें। शैम्पू करते समय शैम्पू को स्कैल्प पर कम से कम 5 मिनट के लिए लगे रहने देना ज़रूरी है। [4]

  • सिर पर मौजूद पपड़ीनुमा रूसी को हटाने के लिए बारीक कंघे का इस्तेमाल करें। यह शुरूआती चरण से ही रूसी के इलाज में अहम भूमिका निभा सकता है। यह ब्लड सर्कुलेशन भी सही करता है और रूसी स्कैल्प से हटने लगती है।
  • नारियल या जैतून तेल से स्कैल्प की मालिश भी एक बेहद कारगर इलाज है। बेहतर परिणाम पाने के लिए आप लिनन के कपड़े पर तेल लगाकर स्कैल्प की मालिश करें।

रूसी से छुटकारा पाने के 5 घरेलू नुस्खे - (Home Remedies for Dandruff)

ऐसे कई घरेलू नुस्खे हैं, जिनका इस्तेमाल आप रोजाना अपनी जिंदगी में करके रूसी को टाटा- टाटा बाय- बाय बोल सकते हैं। हां, बस इन उपायों को अपनाते समय इसके सामग्री की सही मात्रा रखना ज़रूरी है। इन्हे सही तरीके से अपनाने पर, यह आपको रूसी यानी डैंड्रफ से निजात दिलाने में आपकी मदद करेगा। यहां कुछ घरेलू नुस्खे बताए जा रहे हैं, जो रूसी से छुटकारा पाने के लिए कमाल के हैं।

1.दही (Curd)

बालों में दही लगाना रूसी को भगाने का एक कारगर तरीका है। हालांकि, यह काफ़ी मेसी हो सकता है, लेकिन डैंड्रफ के इलाज के लिए बढ़िया घरेलू उपाय है।

उपयोग का तरीका:

  • इसके लिए कुछ ज्यादा करने की ज़रूरत नहीं है, बस अपने बालों के साथ स्कैल्प पर थोड़ी दही लगाएं।
  • ध्यान दें कि दही बराबर मात्रा में पूरे बालों और स्कैल्प पर सही तरीके से लग गयी हो।
  • इसे करीब 1 घंटे के लिए लगे रहने और सूखने दें।
  • इसके बाद शैम्पू से धो लें। दही अच्छी तरह से बालों से निकल जानी चाहिए।

2.नीम की पत्तियां (Neem Leaves)

नीम को डैंड्रफ के लिए रामबाण इलाज माना जाता है। यही वजह है कि बाजार में उपलब्ध कई आयुर्वेदिक शैम्पू में इसके सत्व होते हैं। रूसी के इलाज के लिए भी नीम की पत्तियों का इस्तेमाल किया जाता है।

उपयोग का तरीका:

  • अगर आपको ताज़ी नीम की पत्तियां मिल जाएं तो बहुत अच्छा है वरना कुछ दिन की रखी पत्तियां का भी प्रयोग कर सकते हैं।
  • सबसे पहले नीम की पत्तियों को तोड़कर पाउडर बना कर थोड़े पानी में उबाल लें। फिर इसका पेस्ट बना लें, पेस्ट बनाने के लिए नीम की पत्तियों को मिक्सर में पीस लें।
  • इसे बालों और स्कैल्प पर लगा लें और करीब 10 मिनट तक लगे रहने दें।
  • इसके बाद सादे पानी से धो लें।

neem leaves with ground paste using as treatment

3.नींबू का रस+ नारियल तेल (Lemon juice + Coconut oil)

कहा जाता है कि नारियल तेल बालों को पोषण देता है और जब इसे नींबू के रस के साथ मिलाया जाता है तो यह डैंड्रफ का रामबाण इलाज सिद्ध हो सकता है। [5] यह एक ऐसा घरेलू नुस्खा है, जो दादी- नानी के समय से चला आ रहा है।

उपयोग का तरीका:

  • सबसे पहले 2 चम्मच नारियल तेल लें और इसे 2 चम्मच नींबू के रस के साथ मिला लें।
  • अब हल्के हाथ से इसे अपने बाल और स्कैल्प पर मालिश करें।
  • मालिश करने के बाद लगभग 20 मिनट तक लगे रहने दें और फिर शैम्पू से बाल धो लें।

4.अंडे की जर्दी (Egg)

अंडे की जर्दी में बायोटिन होता है। यह एक विटामिन है जो डैंड्रफ को दूर करने में मुख्य भूमिका निभाता है। यह आपके बालों के लिए बेहतरीन कंडीशनर की तरह भी काम करता है और आपके बालों को सेहतमंद बनाता है।

उपयोग का तरीका:

  • अंडे की जर्दी को तैयार करने के लिए, आपको अंडे के सफ़ेद वाले हिस्से को अलग करना होगा। यह हमेशा याद रखें कि सफ़ेद वाले भाग की बजाय जर्दी ही ज्यादा मतवपूर्ण और सेहतमंद होती है।
  • इसको लगाने से पहले यह ध्यान रखें कि आपके बाल और स्कैल्प ड्राई रहें। अब इसको बाल और स्कैल्प पर लगा लें और प्लास्टिक के कवर से करीब 1 घंटे तक बालों को ढक लें।
  • शैम्पू का इस्तेमाल करके बालों को हल्के हाथ से साफ़ करें। बाल से अंडे की जर्दी की बदबू हटाने के लिए आपको अपने बाल दो- तीन बार साफ़ करने पड़ सकते हैं।

5.टी ट्री ऑयल (Tea Tree oil )

टी ट्री ऑयल में एंटी- फंगल गुण होते हैं जो डैंड्रफ को हटाने के लिए काफ़ी मदद करते हैं। यही नहीं, इस दौरान बालों और स्कैल्प में कोई ड्राईनेस भी नहीं होती है।

उपयोग का तरीका:

  • आप जिस शैम्पू का इस्तेमाल करते हैं, उसमें टी ट्री ऑयल की 10-15 बूंदें मिलाएं और बालों एवं स्कैल्प पर मालिश करें।
  • उसे बालों पर लगभग 5 मिनट तक रहने दें, फिर पानी से साफ़ करें।
  • एक प्राकृतिक कंडीशनर की तरह काम करके टी ट्री ऑयल स्कैल्प को राहत देता है और पपड़ी होने से बचाता है।

रूसी (डैंड्रफ) से बचाव - (Prevention of Dandruff in Hindi)

1. गर्मी के मौसम में सीधे सूरज की किरणों से अपने बाल बचाने की कोशिश करें क्योंकि गर्मी से पसीना होता है और पसीना बालों को चिपचिपा बनाता है। यह गर्माहट स्कैल्प में तेल के निर्माण को बढ़ाएगी और रूसी का निर्माण होने लगेगा। बेहतर तो यह है आप जब भी धूप में बाहर निकलें, अपने बालों को स्कार्फ से ढककर ही बाहर निकलें।

2. सेहतमंद खाना, अपनी डाइट को सही रखना, हरी पत्तेदार सब्जियों और मौसमी फलों को अपने भोजन में शामिल करना बहुत ज़रूरी है।

3. नियमित व्यायाम आपको मानसिक तौर पर शांत रखने में मदद करता है और स्ट्रेस को दूर भगाता है, तो व्यायाम ज़रूर करें। अगर कुछ ज्यादा नहीं कर पाते हैं तो वॉक, जॉगिंग जैसे व्यायाम तो ज़रूर करें।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल - FAQS

1.क्या रूसी संक्रामक है? Is dandruff contagious?

रूसी बिल्कुल भी संक्रामक नहीं है! किसी तरह की महामारी के बजाय यह एक परेशानी है, जो एक से दूसरे पर फैलती नहीं है। आप किसी को डैंड्रफ नहीं दे सकते हैं और न ही अपने दोस्तों से इसे पा सकते हैं।

2.क्या केवल वयस्कों में रूसी होती है? Do only adults have dandruff?

रूसी सिर्फ़ वयस्कों को ही नहीं, बल्कि नवजात बच्चों के साथ थोड़े बड़े बच्चों को भी हो सकती है। अमूमन नवजात बच्चों के सिर पर डैंड्रफ होता ही है, जिसे सावधानी से धीरे-धीरे हटाया जाता है।

3.क्या सर्दियों में वास्तव में प्रमुख रूसी मौसम होता है? Is winter really the prime dandruff season?

वैसे देखा जाए तो डैंड्रफ सालों भर परेशान करता है लेकिन कुछ अनजाने कारणों की वजह से यह सर्दियों में बहुत बढ़ जाता है। दरअसल, ठंडा मौसम आपके स्कैल्प से नमी को दूर कर देता है और स्कैल्प ड्राई हो जाता है और उस पर पपड़ी जमने लगती है।

4.क्या बाल उत्पाद रूसी के लिए अच्छे हैं? Are hair products good for dandruff?

बाजार में कई एंटी- डैंड्रफ शैम्पू उपलब्ध हैं जो कुछ हद तक बाल और स्कैल्प से रूसी को दूर करते हैं। लेकिन बिना किसी विशेषज्ञ की सलाह के किसी भी शैम्पू का इस्तेमाल न करें।

5.क्या ब्लो ड्राइंग से रूसी कम हो जाती है? Does blow drying reduce dandruff?

ब्लो ड्राइंग आपके बालों और स्कैल्प में व्याप्त रूसी को और खराब कर सकती है। और यदि आपके बाल रूसी मुक्त हैं तो वहां रूसी का कारण बन सकती है। ऐसा इसलिए क्योंकि ब्लो ड्राई करने से स्कैल्प और रूखा हो जाता है। इसलिए, अपने बालों को ब्लो ड्राई करने से बचें और खुली हवा में सामान्य तरीके से बाल सुखाएं।

निष्कर्ष – Conclusion

अपने बालों और स्कैल्प को रूसी से बचाने के लिए और उसका सही इलाज करने के लिए ज़रूरी है कि हम अपने बालों की सही तरीके से देखभाल करें और नियमित तौर पर कंघी और शैम्पू करते रहें। घर पर डैंड्रफ ट्रीटमेंट करके रूसी से छुटकारा पाकर हम अपने बालों का ध्यान रख सकते हैं।

Begin By Knowing Your Skin

Working...